ssssssssss_InPixio-Recovered2

Summer Season in Hindi

ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में इन चीजों का सेवन भूल कर भी ना करें।

ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) 1

ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) इन चीजों का सेवन भूल कर भी ना करें।

 दोस्तों पिछले लेख में मैंने आपको बताया था, गर्मी का मौसम शुरू हो गया है। ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में हमें किन चीजों का सेवन करना चाहिए

अब इस लेख के जरिए आप लोगों को बताने का मेरा एक छोटा सा प्रयास है। कि आप गर्मी में किन किन चीजों का सेवन ना करें। जिससे आप स्वस्थ और खुश रह सकें।

दोस्तों ठंड का मौसम आते ही हम शरीर को स्वस्थ रखने के लिए गर्म कपड़े निकाल लेते हैं।  और खाने-पीने में भी ऐसी चीजों का प्रयोग करने लगते हैं, जो शरीर को गर्मी प्रदान करें। इसी तरह ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) का आगमन हो चुका है। ऋतु के अनुसार जीवन शैली में बदलाव स्वस्थ रहने का बेहतरीन उपाय है। 

गर्मी में बॉडी का टेंपरेचर कंट्रोल में रखना हमारे लिए एक चुनौती बन जाता है। आपके खान-पान की दिनचर्या  ही डिसाइड करेंगी कि आप जीवन के सफर का आनंद लेंगे या पूरा समय तनाव व अस्वस्थ रहकर सफर करेंगे।

ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में खानपान में थोड़ी सी लापरवाही आपके लिए जानलेवा तक साबित हो सकती है।  गर्मी में छोटी-छोटी चीजें इतनी जल्दी असर करती हैं, कि आपके शरीर का सिस्टम गड़बड़ा जाता है।  

गर्मी में स्वस्थ रहने के लिए हमें दो कॉलम बना लेना चाहिए पहला हमें क्या खाना चाहिए और दूसरा हमें क्या नहीं खाना चाहिए। वैसे गर्मी में ज्यादा खाने का मन भी नहीं करता है। 

कुछ चीजों का सेवन हमारे शरीर में गर्मी को बढ़ा देता है। और गर्मी असहनीय हो जाती है। और हम अस्वस्थ महसूस करने लगते हैं। पर हमें समझ में नहीं आता कि हमने क्या खाया, जिससे हमें ऐसा लग रहा है। 

आज मैं  आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताऊंगी जो ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में नहीं खाना चाहिए।

1. तली हुई चीजें –

भारतीय परंपरा में थाली में जब तक मसालेदार सब्जी, अचार, पापड़, चटनी और खाना तीखा ना हो तब तक खाने का मजा नहीं आता है। पर ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में स्वास्थ्य की दृष्टि से ऐसा खाना बिल्कुल ठीक नहीं होता है।

गर्मियों में तली हुई चीजों का सेवन कम से कम करना चाहिए। गर्मी में सरसों का तेल, ऑलिव ऑयल और सोयाबीन तेलों का उपयोग कम से कम करना चाहिए। बल्कि तेल की जगह घी का प्रयोग ज्यादा करना चाहिए। क्योकि यह हमें ठंडक प्रदान करता है। ज्यादा तला भुना खाना ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में कई बीमारियों का कारण बन जाता है।

2. चाय कॉफी 

चाय कॉफी एक ऐसी चीज है। जिसे पीते ही तुरंत तो हमें ऐसा लगता है। जैसे हमारा एनर्जी लेवल बढ़ गया है। हमें अच्छी स्फूर्ती आ गई है। 

पर दोस्तों थोड़ी देर बाद ही यह हमारे शरीर में अपना काम करना शुरू कर देती है। जिससे हमारे शरीर को बहुत नुकसान हो सकता है। 

चाय कॉफी में कैफीन की मात्रा अधिक होती है। जो आपकी बॉडी के लिए खासकर ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में बहुत नुकसानदायक है। इस की जगह दिन भर में एक बार आप ग्रीन टी या लेमन टी का सेवन कर सकते हैं।

3. मसाले –  

गर्मी में हम ज्यादा तेल मसाले से दूर तो नहीं रह पाते है। फिर भी ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में दालचीनी, कालीमिर्च सौंठ साथ हीऔर भी गरम मसाले है, इनका प्रयोग कम ही करना चाहिए। 

इन सब के प्रयोग से हमारे शरीर में गर्मी बढ़ जाती है। जो कई बीमारियों का कारण हो सकती है। क्योंकि ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में हमारी पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है।

ज्यादा मसाले उपयोग में लाने से गैस, सीने में जलन, खट्टी डकार आदि बीमारियां हमें घेर लेती है।

4. नॉनवेज –  

मछली, चिकन, एवं ज्यादा  ग्रेवी वाला खाना खाने से गर्मी में बचना चाहिए। साथ ही समुद्री भोजन के लिए ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) का मौसम ठीक नहीं होता है। 

यह गर्मी में आसानी से नहीं पच पाते हैं। जिससे हमारा पाचन सिस्टम बिगड़ सकता है। इसलिए इन्हें कम ही सेवन में लाएं।

5. रोस्टेड और तंदूरी खाना –  

पिज़्ज़ा, बर्गर, फ्रेंच फ्राइज और ना जाने ऐसे कई जंक फूड है, जो ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में नहीं खाना चाहिए। तंदूरी आइटम  गर्मी में सबसे ज्यादा नुकसानदायक होते हैं। 

खासकर बच्चों को इन चीजों से जरूर बचा कर रखना चाहिए। इससे फूड प्वाइजनिंग का खतरा बढ़ जाता है। और आजकल बच्चों को यह चीजें ही ज्यादा पसंद आती है। पर गर्मी में यह स्वास्थ्य के लिए जहर के समान है।

6. सॉस –  

स्नैक्स के साथ अक्सर हम लोग सॉस को बहुत पसंद करते हैं। पर आपको जानकर हैरानी होगी। कि ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में इसका ज्यादा सेवन करना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक है। 

इसमें एक ऐसा तत्व पाया जाता है जो आपको अन हेल्थी बना सकता है। इसके सेवन से आपका मेटाबॉलिज्म भी खराब हो सकता है। 

सॉस में नमक और मोनो सोडियम ग्लूटामेट होता है। जो आपके स्वास्थ्य के लिए गर्मी में नुकसानदायक है। इसलिए हो सके तो गर्मियों में इसका सेवन कम से कम करें और बच्चों को भी बचाएं।

7. ड्राई फ्रूट –  

आप सोच रहे होंगे ड्राई फूड तो ताकतवर होते हैं, पर गर्मियों में इनका सेवन कम ही करना चाहिए। क्योकि ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में हमारा पाचनतंत्र कमजोर होता है। और ड्राई फूड  को पचाना थोड़ा मुश्किल होता है। 

यह हमारे शरीर में गर्मी को और बढ़ा देते हैं। और यदि खाना ही है तो भिगोकर खा सकते हैं। भिगोकर खाने से इनकी तासीर बदल जाती है।

8. आइसक्रीम –  

गर्मियों और आइसक्रीम का रिश्ता दिया और बाती की तरह है। आइसक्रीम के बगैर ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) की कल्पना ही नहीं की जा सकती है। दोनों एक दूसरे के बगैर अधूरे हैं। 

लेकिन हाई कैलोरी, हाई शुगर और प्रिजर्वेटिव होने के कारण इसे कम मात्रा में ही खाना चाहिए। खासकर बच्चों को यह सबसे प्रिय होती है। हफ्ते में एक दो बार खा सकते हैं।

9. आम –  

आम को फलों का राजा कहा गया है। इसका स्वाद सबको अधिक भाता है। आम का सेवन करना तो चाहिए लेकिन कच्चे आम का पना बनाकर। 

पके हुए आम की तासीर भी गर्म होती है। जिससे अधिक खाने पर पेट में गर्मी और दस्त की शिकायत हो सकती है। ज्यादा सेवन से पिंपल्स भी हो सकते हैं। 

आम में विटामिन सी और मिनरल्स के अलावा कैलोरी और शुगर अधिक होता है। जिन्हें मोटापा और शुगर की प्रॉब्लम हो उन्हें कम ही खाना चाहिए। 

आम खाने के बाद ठंडा दूध साथ साथ कभी नहीं पीना चाहिए।  मैंगो शेक से आम की तासीर ठंडी हो जाती है। 

दोस्तों गर्मियों में पाइनएप्पल और पपीता का सेवन भी कम ही करना चाहिए। इन की तासीर भी गर्म होती है।

10. फ्रूट चाट – 

सब फूटों को एक साथ मिलाकर हम जो फ्रूट चाट बनाते हैं। वह भी नुकसानदायक होता है। क्योंकि सारे फलों का डाइजेशन अलग अलग तरह से होता है। 

जैसे केला एल्‍कालाइन है, तो संतरा ऐसेटिक दोनों को एक साथ खाने से डाइजेशन पर इसका गलत प्रभाव पड़ता है। 

फ़ूड सलाद खाना ही चाहते हो तो ऐसे फलों को उपयोग में लाये जो एक ही प्रकृति के हों।  केला आम चीकू कम ही खायें। कस्टर्ड भी ज्यादा दिन फ्रिज में रखकर उपयोग में ना लायें। 

दोस्तों किसी भी चीज से हमें परहेज नहीं करना है। पर सीमित और उचित मात्रा में सेवन करके हम ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) का आनंद उठा सकते हैं। कहते हैं अति किसी भी चीज की अच्छी नहीं होती है।

दोस्तों उम्मीद है मेरा एक छोटा सा प्रयास आपके स्वास्थ्य के लिए मददगार साबित होगा। कहते है, जान है तो जहान है। 

खाने के लिए तो प्रकृति ने कई ऋतुऐं बनाई है जिन में हम खूब खा कर भी स्वस्थ रह सकते हैं। पर ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में हमारा खान-पान सही ना हो, तो हम बहुत जल्दी अस्वस्थ हो सकते हैं।

आप स्वस्थ रहकर गर्मियों का मजा लेना चाहते हैं। तो आज से ही अपने खानपान में सुधार लाएं और अपने जीवन को एक बेहतरीन आकार दें।

ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) का आहार विहार

SUMMER SEASON

ग्रीष्म ऋतु (Summer Season ) में क्या खाना और पीना चाहिए

        दोस्तों ऋतुओं का परिवर्तन एक प्राकृतिक प्रक्रिया है। और परिवर्तन ही प्रकृति का नियम है। ऋतुओं में ग्रीष्म ऋतु (Summer Season )  शुरू होने वाली है ।

         मौसम में बदलाव के साथ साथ हमें हमारी दिनचर्या खानपान और पहनावे में भी बदलाव लाना जरूरी है ।
          आज की जीवन शैली में यदि स्वस्थ और खुश रहना हो तो खानपान का ध्यान रखना, सबसे ज्यादा जरूरी है। किस मौसम में क्या खाना और पीना चाहिए इसकी सही जानकारी होना बेहद जरूरी है।
           गर्मी (Summer Season ) में स्वस्थ रहने के लिए सबसे ज्यादा आवश्यक है पानी। क्योकि गर्मी में पसीना बहुत आता है। जिससे शरीर का इलेक्ट्रोलाइट  का संतुलन बिगड़ जाता है। जिससे हम कई तरह की बीमारियों के चपेट में आ सकते है। 

        गर्मी  (Summer Season ) में कम से कम आप तीन चार लीटर पानी दिन भर में जरूर पीयें। गर्मी में पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है। जिससे उल्टी अपच बदहजमी डायरिया पीलिया डी-हाईड्रेशन, फूड पायजिनिंग स्कीन संबंधी आदि बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। इसलिये गर्मी (Summer Season ) में खानपान पर विषेष ध्यान दें ।

           गर्मी की तपन से बचने के लिए कौन कौन से फल और क्या खाये इसकी जानकारी दे रही हूँ। इस पर अमल करें और अपनी डाइट में जरूर शामिल करें ।

कैसा हो खानपान Summer Season मे –

           गर्मी में शरीर को ठंडा रखने के लिए पानी की आवश्यकता अधिक होती है। इसलिये जिन फलों में पानी ज्यादा होता है, उन्हें अपनी डाईट में जरूर शामिल करें।

1. तरबूज –

तरबूज पुराने जमाने से ही गर्मियों (Summer Season) का एक शानदार फल रहा है। इसमें विटामिन और सी पोटैशियम मेग्निशियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसमें लो कैलोरी होती है । एंटीऑक्सीडेन्ट युक्त्त तरबूज शरीर को हाइड्रेटेड रखकर गर्मी दूर रखता है।

2. कच्चा नारियल –

नारियल पानी शरीर को ठंडक प्रदान करता है। यह शरीर में कूलेंट की तरह कार्य करता है। एसिडिटी नही बनने देता।

3. संतरा –

इसमें 85 प्रतिशत पानी होता है। गर्मी (Summer Season) में अधिक पसीना आने से शरीर का पोटेशियम निकल जाता है। इससे हमारी माॅसपेषियों में एैठन हो सकती है, और संतरे में पोटैशियम अधिक मात्रा में पाया जाता है ।

4. खीरा –

यह हमारे शरीर को हाईड्रेटेड रखने के लिए ठंडक प्रदान करता है एवं हमारे शरीर में पानी की पूर्ति करता है।

5. दही –

दही छाछ गर्मी (Summer Season) में बहुत फायदेमंद होता है। दूध से अधिक कैल्शियम इन पदार्थो में पाया जाता है। इसलिये इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।

6. आम –

गर्मियों में केरी का पना हमारे शरीर की गर्मी को दूर करता है। इससे लू भी नही लगती है। गर्मी में बाहर निकलने से पहले ड्रिंक की बजाय केरी का पना पी कर निकले। आप दिन भर गर्मी से बचे रहेंगें ।

7. नींबू पौदीना –

नींबू शरीर को फ्रेश और ठंडा रखता है। खाना बनाते समय पौदीना का उपयोग जरूर करें। इसकी चटनी भी बना सकते है यह हमारे खाने में स्वाद ले आता है।

8. प्याज –

पुराने समय से प्याज को गर्मि (Summer Season)  के लिए एक औषधि के रूप में उपयोग में लाया जाता रहा है। तलवों में जलन हो तो प्याज का रस दवाई का काम करता है। दिनभर में दो तीन बार इसका सेवन जरूर करना चाहिए। बाहर निकले तो इसे पॉकेट में रखने से लू नही लगती हे।

9. बेल का शरबत –

बेल का शरबत गर्मियों (Summer Season)  में अमृत का काम करता है। यह शरीर को एनर्जी प्रदान करता है। इससे लू भी नही लगती है। 

10. गन्ने का रस –

गन्ने का रस हमारी पाचन क्रिया को ठीक रखता है। पीलिया होने पर गन्ने का रस सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है।

11. अन्य खानपान –

गर्मी (Summer Season)  में हेल्दी रहने के लिए जरूरी है, दाल चावल रोटी सब्जी बिल्कुल हल्का भोजन लें। सब्जियों में जैसे लौकी, गिलकी, टिंडे ऐसी हरी संब्जियों का सेवन ज्यादा करें। सलाद को सबसे ज्यादा प्राथमिकता दे इनमें रेशे होते है। इसके अलावा जौ से बनी चीजें, सत्तू , भूने चने, दलिया आदि चीजों को भोजन में शामिल करें।

गर्मियों में ऑवला भी औषधि का काम करता है। स्कीन, बालों तथा पाचन में ऑवला एक रामबाण इलाज है।

11. सावधानियाॅ –

ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) मे खानपान के साथ कुछ सावधानियों को भी बरतना जरूरी है। जैसे गर्मियों में बाहर निकले तो चश्मा, रूमाल, टोपी और मुॅह बाँध कर निकले। 

बाहर से आने के तुरंत बाद कूलर के सामने न बैठे, तुरंत ठंडा पानी न पियें। 5-10 मिनिट रूक कर फिर पीयें। फ्रिज के पानी के बजाय घडे़ के पानी का प्रयोग करें ।

भूख लगने पर एक साथ खाना खाने के बजाय रूक रूक कर, छोटी छोटी खुराक ले। एक रोटी कम ही खाये बाहर के खाने और ज्यादा तेल चिकनाई युक्त खाने से बचें। 

व्यायाम और सुबह शाम टहलना भी अपनी दिनचर्या में शामिल करें। लाइट और ढीले कपड़ों का प्रयोग करें ।

इस लेख के जरिये में यह बताना चाहती हूँ, कि बिना गर्मी में निकले जीवन की आवश्यकता पूरी नही हो सकती। पर सही खानपान व्यायाम और कुछ सावधानियाॅ रखकर, हम ग्रीष्म ऋतु ( Summer Season ) में स्वस्थ एवं खुश रहकर गर्मी के खूब मजे ले सकते है। क्योंकि स्वस्थ शरीर ही खुशियों का भंडार है।

  नई पोस्ट

Follow Us

Contact Us

Lyrics in Life 

क्या है?

          Lyrics in Life एक ऐसा मंच है। जहाँ पर हमारी कौशिस हे, कि ईश्वर ने प्रकृति के रुप में हमे जो वरदान दिया है, उसे स्वीकार्य करें और प्रकृति के विरुद्ध अपनी अंतहीन दौड़ खत्म कर एक स्वस्थ, दीर्धायु एवं प्राकृतिक जीवन का आनन्द लें।

      इस मंच पर अपने विचार, ज्ञान, एवं अनुभव साझा करें ताकी हम सब मिलकर एक बेहतर समाज का निर्माण कर सकें।

Copyright © 2018 Lyricsinlife.com.   |     About us.     |    Privacy Policy.